Connect with us

Hi, what are you looking for?

Adiwasi.com

National

जापान में अपने आविष्कार का प्रदर्शन करेगी आंचल तिग्गा

सरगुजा (छत्तीसगढ)। सरगुजा जिले के विकासखण्ड लखनपुर के पूर्व माध्यमिक शाला सिंगिटाना की आठवीं कक्षा की छात्रा आंचल तिग्गा वर्ष 2024 में जापान में होने वाले अंतरराष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में हिस्सा लेंगी।

एक आदिवासी किसान की बेटी आंचल तिग्गा ने एडजस्टेबल गैस स्टोव और गैस स्टैंड के एक ऐसे मॉडल का आविष्कार किया है, जिसे देश भर में पहला स्थान मिला है। अब इस बच्ची को भारत का प्रतिनिधित्व करने जापान जाने का मौका मिला है।

मेधावी आंचल ने दिल्ली में आयोजित दसवीं राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया और शीर्ष 60 नवाचार आधारित प्रदर्शनियों में स्थान हासिल किया। अब वह अगले वर्ष 2024 में जापान में आयोजित होने वाले अंतरराष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में हिस्सा लेंगी

राज्य के बाद राष्ट्रीय स्तर पर मिला फर्स्ट प्राइज
15 वर्षीया आंचल तिग्गा जिले के लखनपुर विकासखंड के ग्राम सिंगिटाना स्थित पूर्व माध्यमिक शाला की छात्रा है। कक्षा 8वीं की आंचल तिग्गा ने विज्ञान प्रदर्शनी के दौरान अपने मॉडल में एडजस्टेबल गैस स्टोव और गैस स्टैंड को बनाया था। छात्रा द्वारा बनाए गए मॉडल को पहले जिला स्तर और फिर प्रदेश स्तर पर सर्वश्रेष्ठ मॉडल के रूप में चुना गया। राज्य स्तर पर प्रथम स्थान हासिल करने के बाद आंचल के मॉडल को अब राष्ट्रीय स्तर पर भी पहले स्थान पर चुना गया है।

सरगुजा के डीईओ संजय गुहे ने छात्रा आंचल की तारीफ करते हुए कहा- “छात्रा ने अपने परिवार और स्कूल के साथ पूरे प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। इनके द्वारा बनाया गया मॉडल वाकई कबीले तारीफ है। जिले से लेकर राज्य स्तर तक सभी ने इसकी सराहना की थी। अब राष्ट्रीय अवार्ड मिलने से विभाग में भी खुशी का माहौल है।”

आंचल का मॉडल क्यों है खास?
आंचल ने अपने मॉडल को समझाते हुए बताया कि घरों में खाना बनाते समय कम ऊंचाई वाले सदस्यों को चूल्हा तक पहुंचने में कठिनाई होती थी। इसी समस्या को ध्यान में रखकर एक उपकरण बनाया गया, जो गैस चूल्हा के नीचे लगाया जाता है। जैक, गोलाकार कुंडी, स्टील पाइप एवं चादर से बने इस उपकरण को आसानी से उपयोग में लाया जा सकता है। इसे पिकनिक और शादी वगैरह में भी उपयोग किया जा सकता है।

Share this Story...
Advertisement

Trending

You May Also Like

Exclusive

लंदन। यह कहानी पूर्वी सिंहभूम जिले (झारखंड) के अजय हेम्ब्रम की है, जिन्होंने उच्च शिक्षा का ख्वाब देखा था। भारत में शिक्षा तक तो...

error: Content is protected !!