Connect with us

Hi, what are you looking for?

Adiwasi.com

National

आदिवासियों को वनवासी कहना अपमानजनक: शरद पवार

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने रविवार को बिना नाम लिए भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि आदिवासियों को वनवासी कहना अपमानजनक है। जो लोग इस शब्द का इस्तेमाल करते हैं, वे अपनी अज्ञानता दिखाते हैं। वे यहां एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने किसी का नाम लिए बगैर कहा- “कुछ लोग जंगलों में रहने वालों की तरह आदिवासियों को वनवासी कहना पसंद करते हैं। अगर मैं यह कहूं कि आदिवासियों को वनवासी कहना अपमान है, तो यह अतिशयोक्ति नहीं होगी। वे आदिवासी हैं।”

उन्होंने कहा- “वे जल, जंगल और जमीन के वास्तविक मालिक हैं। जो लोग इस तरह के शब्दों (वनवासी) का उपयोग करते हैं, वे आदिवासियों के प्रति अपनी अज्ञानता के साथ-साथ इस देश में जंगलों के संरक्षण के प्रयासों के प्रति अपनी अनभिज्ञता को भी प्रदर्शित करते हैं। वनों को संरक्षित करने का श्रेय आदिवासियों का है।”

पवार के नेतृत्व वाले संगठन यशवंतराव चव्हाण प्रतिष्ठान ने रविवार को अपना जनजातीय कल्याण केंद्र शुरू किया।

राहुल गांधी ने भी ‘वनवासी’ को अपमानजनक बताया था
इस से पहले, भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुये कहा था कि वे आदिवासियों के लिए अपमानजनक शब्द ‘वनवासी’ का इस्तेमाल कर रहे हैं। पिछले साल नवंबर में उन्होंने कहा था कि भाजपा और आरएसएस को इसके लिए हाथ जोड़ कर माफी मांगनी चाहिए।

Share this Story...

You May Also Like

Exclusive

रांची। मुख्यमंत्री चम्पाई सोरेन के नेतृत्व में झारखंड में पेसा (PESA) नियमावली लागू करने की कवायद तेज हो चुकी है। इसी संदर्भ में आज...

Exclusive

रांची। आचार संहिता हटने के तुरंत बाद झारखंड के मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने विधि व्यवस्था को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों, सभी जिलों के उपायुक्त तथा...

National

कोलकाता। कोलकाता के धर्मतल्ला में शुक्रवार को हजारों की संख्या में आदिवासी समाज से जुड़े लोग जुटे, जहां उन्होंने समान नागरिक संहिता (यूसीसी) और...

National

पन्ना। मध्य प्रदेश में आदिवासियों के साथ अपराध की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला पन्ना जिले के गुनौर थाना...

error: Content is protected !!