Connect with us

Hi, what are you looking for?

Adiwasi.com

Exclusive

मंत्री चंपई सोरेन की पहल पर दो बच्चों को बिहटा से बचाया गया

गुमला। 30 जनवरी को प्रभात खबर में एक गरीब परिवार की खबर छपी थी, जिसके अनुसार गुमला के अंबेडकर नगर की रहने वाली गुड़िया देवी ने गरीबी से तंग आकर अपने दो बच्चों को बिहटा (पटना) स्थित एक ईंट भट्ठे को बेच दिया था।

इस खबर को प्रभात खबर के वरिष्ठ पत्रकार दुर्जय पासवान ने मंत्री चंपई सोरेन को ट्विटर पर भेजा। मंत्री ने मामले का संज्ञान लेकर गुमला के उपायुक्त को मामले में हस्तक्षेप कर, गुड़िया देवी के इलाज की व्यवस्था करने तथा बच्चों के मामले में समुचित कार्यवाही करने का निर्देश दिया था।

मंत्री के निर्देश के बाद उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा ने सदर एसडीओ रवि आनंद तथा श्रम अधीक्षक एतवारी महतो को दोनों बच्चों की वापसी सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिया। जिसके बाद गुमला पुलिस, जिला प्रशासन एवं राज्य प्रवासी नियंत्रण कक्ष के प्रयास से बिहटा ईंट भट्ठें से दोनों बच्चों को मुक्त कराया गया।

कल, गुमला वापस लाने के बाद, दोनों बच्चों आकाश कुमार (9 वर्ष) तथा खुशी कुमारी (13 वर्ष) को बाल गृह में शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। आर्थिक रूप से कमजोर परिवार ने विवशता में अपने दो नाबालिग बच्चों को ईंट भट्ठा भेज दिया था।

जिला प्रशासन ने इन परिवार को विभिन्न सरकारी योजनाओं से जोड़ने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। परिवार ने इस मामले में सहयोग के लिए मंत्री चंपई सोरेन को धन्यवाद दिया है। ज्ञात हो कि चंपई सोरेन झारखंड के सोशल मीडिया पर खासे एक्टिव रहते हैं, और उनके प्रयासों से हर दिन कई लोगों को सहायता मिलती है।

Share this Story...

You May Also Like

Jharkhand

रांची। झारखंड में #INDIA गठबंधन की सरकार ने विश्वास मत जीत लिया है। विधानसभा में हुए शक्ति परीक्षण में सत्ता पक्ष को 47 वोट...

Exclusive

लंदन। यह कहानी पूर्वी सिंहभूम जिले (झारखंड) के अजय हेम्ब्रम की है, जिन्होंने उच्च शिक्षा का ख्वाब देखा था। भारत में शिक्षा तक तो...

Jharkhand

धनबाद। निरसा एमपीएल के गेट पर मजदूर विजय किस्कू के शव को लेकर पिछले 5 दिनों से चल रहा धरना मंत्री चंपई सोरेन के...

Jharkhand

जमशेदपुर। पद्मश्री छुटनी महतो को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। पिछले दिनों, स्वास्थ्य संबंधित दिक्कतों के बाद, आदिवासी कल्याण मंत्री चंपई सोरेन की...

error: Content is protected !!