Connect with us

Hi, what are you looking for?

Adiwasi.com

Jharkhand

रांची में आदिवासी संगठनों ने खतियानी जमीन पर निर्मित बाउंड्री को तोड़ा

रांची। झारखंड की राजधानी रांची में आदिवासी संगठनों और आदिवासी संघर्ष मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को पिस्कामोड़ के टंगरा टोली में हिंदुवा तिर्की व पुतुल तिर्की की खतियानी जमीन पर दलालों द्वारा अवैध रूप से निर्माण कराए गए चहारदीवारी को तोड़ दिया।

सैंकड़ों की संख्या में आदिवासी संगठन के लोग सरना झंडा और हाथ में हथौड़ा, सब्बल, ढेलफोरा लेकर निर्माण स्थल पर पहुंचे तथा आदिवासी जमीन की लूट के खिलाफ़ नारे लगाते हुए एक घंटे में ही दो एकड़ जमीन पर बनी बाउंड्री को तोड़ दिया। इस दौरान सुखदेव नगर पुलिस के आने पर भीड़ और उग्र हो गई। पुलिस स्थिति को भांपते ही घटना स्थल से वापस लौट गई।

जमीन मालिक पुतुल तिर्की ने कहा कि धारा 144 के लागू होने के बावजूद दलालों ने जमीन पर काम कराया है। पुलिस जमीन मालिकों के बजाए जमीन हड़पने वालों के पक्ष में ही खड़ी रही है।

घटनास्थल पर हुई सभा
इस दीवार को तोड़ने के बाद घटनास्थल पर ही सभा की गई, जिसे आदिवासी नेता राजेश लिंडा ने संबोधित किया। राजेश ने कहा कि सीएनटी एक्ट के बावजूद आदिवासी जमीन की लूट जारी है। अब पूरे रांची में जमीन लूट के खिलाफ आंदोलन तेज होगा।

आदिवासी संघर्ष मोर्चा की नेत्री अलमा खलखो ने कहा कि जान दे देंगे पर जमीन लूटने नहीं देंगे। आदिवासी संघर्ष मोर्चा जमीन पहचान और झारखंडी संस्कृति की रक्षा के लिए लड़ाई को मजबूती से लड़ेगा।

Share this Story...

You May Also Like

Jharkhand

रांची। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब अपने निर्धारित कार्यक्रम से एक दिन पहले 14 नवंबर को ही झारखंड आ जाएंगे। पहले जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी...

National

कोलकाता। कोलकाता के धर्मतल्ला में शुक्रवार को हजारों की संख्या में आदिवासी समाज से जुड़े लोग जुटे, जहां उन्होंने समान नागरिक संहिता (यूसीसी) और...

National

पन्ना। मध्य प्रदेश में आदिवासियों के साथ अपराध की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला पन्ना जिले के गुनौर थाना...

National

मणिपुर के 10 आदिवासी विधायकों ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख कर मणिपुर राज्य से अलग होने की मांग की है।...

error: Content is protected !!