Connect with us

Hi, what are you looking for?

Adiwasi.com

Jharkhand

गैर आदिवासी से विवाह करने वालों को न मिले आरक्षण: गीताश्री उरांव

रांची। अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद की बैठक प्रदेश कार्यालय हेहल में आयोजित की गई। इस बैठक की अध्यक्षता परिषद की प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मंत्री गीताश्री उरांव ने की। बैठक में विशेष तौर पर रांची जिला कमेटी के विस्तारीकरण एवं सदस्य बनाने की बात कही गई। इसमें रांची जिला में प्रखंड गठन एवं पंचायत गठन पर विशेष जोर दिया गया। इस गठन कार्य की जिम्मेदारी जिला एवं महानगर के पदाधिकारियों को सौंपी गई। बैठक में गीताश्री उरांव ने कहा कि रांची जिला में आदिवासियों की स्थिति-परिस्थिति दिनों-दिन खराब होती जा रही है।

उन्होंने कहा कि गैर आदिवासी से विवाह करने वालों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलना चाहिए, तभी इस प्रकार के विवाहों पर रोक लगेगी। पूर्व मंत्री गीताश्री उरांव ने झारखंड से बड़ी संख्या में हो रही महिलाओं की ट्रैफिकिंग पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि महिलाएं आज जहां सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ रही हैं, वहीं दूसरी ओर झारखंड से महिलाओं का पलायन बड़े पैमाने पर होता है, रोजी रोजगार के नाम पर राज्य से बाहर जा रही महिलाओं के साथ शोषण होता है, जिसे रोकने की आवश्यकता है।

लोग बेवजह प्रताड़ित किए जा रहे हैं। जमीन संबंधी समस्याओं की शिकायत परिषद के पास धड़ल्ले से आ रही है। जिले में आदिवासी महिलाओं पर अत्याचार और शोषण की घटनाएं दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। कोरोना के कारण शिक्षा और विकास दोनों रुका हुआ है। हमारी धार्मिक व्यवस्था की जमीनें जैसे सरना, मसना, हड़गड़ी, देशवाली, डालीकतारी, पहनई, भुईहरी, मुण्डई, कोटवारी, भुतखेता जैसी अनेकों जमीनें, जो सीएनटी एक्ट के तहत सिर्फ और सिर्फ आदिवासियों के हैं, ये या तो लुटे जा रहे हैं या फिर बेच दिए जा रहे हैं। परंतु ना तो कोई संगठन इस पर ध्यान दे रहा है और ना ही सरकार तथा जिला प्रशासन इस पर ध्यान दे रहे है। वार्ड स्तर तक संगठन के गठन से आदिवासियों की समस्या सामने आएगी। बैठक में चुनाव कमेटी के निर्वाचन पदाधिकारियों का भी चयन किया गया।

इसमें प्रदेश कमेटी से प्रदेश अध्यक्ष गीताश्री उरांव, प्रदेश महासचिव सुशील उरावं एवं प्रदेश उपाध्यक्ष डाॅ. बिरसा उरांव का चयन किया गया। रांची जिला कमिटी एवं रांची महानगर कमिटी से कुन्दरसी मुंडा, पवन तिर्की, लाला महली, कार्तिक लोहरा, वासुदेव भगत एवं दुर्गा कच्छप जी को शामिल किया गया। बैठक में रातू, बेड़ो, मांडर, चान्हो, इटकी, कांके, ओरमांझी, नामकुम और विभिन्न वार्ड के सदस्य एवं पदाधिकारी शामिल हुए।

Share this Story...

You May Also Like

Jharkhand

रांची। झारखंड के वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए 1,28,900 करोड़ का बजट पेश किया। बजट पेश करते...

Jharkhand

रांची। झारखंड में #INDIA गठबंधन की सरकार ने विश्वास मत जीत लिया है। विधानसभा में हुए शक्ति परीक्षण में सत्ता पक्ष को 47 वोट...

Jharkhand

रांची। झारखंड सरकार के 4 साल पूरे होने के अवसर पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य के अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति के लाभुकों...

Jharkhand

साहिबगंज। झारखंड के साहिबगंज जिले में एक शख्स ने अपनी दूसरी पत्नी की हत्या कर के शव के कई टुकड़े कर दिए। रूबिका पहाड़िन...

error: Content is protected !!